Ticker

6/recent/ticker-posts

क्या आप अंजीर खाने के फायदे और नुकसान जानते है? - Do You Know the Advantages and Disadvantages of Eating Figs in Hindi

अंजीर/figs अपने आप में पोषक तत्वों का स्रोत माना जाता है, फिर चाहे आप इसका फल के रूप में सेवन करे या फिर इसको सूखा के ड्राई फ्रूट के रूप में ये दोनों रूपों में सेहत के लिए काफी लाभदायक माना गया है। इस लेख में हम आपको अंजीर क्या है? इसके क्या फायदे है, इसके पोषक तत्व अथवा इसके नुक्सान के बारे में बतायेंगे। 


Do You Know the Advantages and Disadvantages of Eating Figs in Hindi


अंजीर क्या है?-What is Figs in Hindi


अंजीर को अंग्रेजी में फिग/fig कहा जाता है, जबकि इसका वैज्ञानिक नाम फिकस कैरिका/ficus carica है। अंजीर रसीला और गुद्देदार फल होता है, यहाँ ताजा जल्दी खराब हो जाता है इसलिए लम्बे वक़्त तक इसका इस्तेमाल करने के लिए इसको सूखा दिया जाता है।


प्राचीन काल में मानव द्वारा उगाये हुए फलो में अंजीर का नाम भी शामिल है। इस फल के बारे में बाइबिल में भी बताया गया है। इसके फल का रंग हल्का पीला होता है, जबकि पकने के बाद यहाँ बैंगनी हो जाता है। ईरान, भारत और मध्य-पूर्व के देशों में रहने वाले इसका सेवन अधिक मात्रा में करते हैं।



अंजीर के प्रकार-Types of Figs in Hindi 


पूरी दुनिया में अंजीर लगभग 600-700 प्रकार के नामो से जाना जाता है, इनका स्वाद और मिठास अलग हो सकते है लेकिन पोषक तत्व सबमे समांतर होते है।

अंजीर कई प्रकार के होते है, परंतु मुख्य चार प्रकार हैं -


(1) कैप्री फिग, जो सबसे प्राचीन है और जिससे अन्य अंजीरों की उत्पत्ति हुई है,

(2) स्माइर्ना,

(3) सफेद सैनपेद्रू 

(4) साधारण अंजीर

भारत में अंजीर की मार्सेलीज़, ब्लैक इस्चिया, पूना, बँगलोर तथा ब्राउन टर्की नाम की किस्में प्रसिद्ध हैं।






अंजीर के फायदे-Benefits of Figs in Hindi


यूँ तो अंजीर के अनेक फायदे है लेकिन इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व अपने आप में किसी चमत्कार से कम नहीं है, यहाँ शारीरिक बीमारियों के लक्षणों को कुछ हद तक कम करने में सक्षम है, लेकिन अगर कोई किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त है तो निवेदन डॉक्टर से इलाज करवाना ही सही होगा। इंटरनेट पर पाए जाने वाले स्रोत के अनुसार ही हम आपको इसकी जानकारी प्रदान कर रहे है। 

  • अंजीर में 30% तक फाइबर मौजूद होता है, जिसकी वजह से यह पेट में गैस बनने या कब्ज होने से रोकता है और खाना को समय पर हजम करता है।
  • अंजीर में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिसका काम हड्डियों को मजबूत बनाना है। अंजीर का सेवन करने से हड्डिया तो मजबूत होती ही है साथ ही साथ इससे जुडी बीमारियों के लक्षण भी कम करता है। 
  • दूध के साथ सुखी अंजीर का सेवन करने से शारीरिक दुर्बलता खत्म हो जाती है और यौन शक्ति बढ़ती है। यौन शक्ति को बढ़ाने के लिए इस फल का इस्तेमाल वर्षो से किया जा रहा है।
  • अंजीर में पेक्टिन नामक घुलनशील फाइबर मौजूद है जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में काफी प्रभावी होता है, सुखी अंजीर में ओमेगा-3, ओमेगा-6, फाइटोस्टेरॉल और फैटी एसिड पाए जाते है जो ब्लड प्रेशर नियमित रखते है। 
  • अंजीर में कैलोरी की मात्रा कम और फाइबर की मात्रा काफी ज्यादा होती है जिसका इस्तेमाल वजन कम करने के लिए किया जा सकता है। एक अंजीर में लगभग 50-60 कैलोरी होती है इसलिए इसका इस्तेमाल वजन कम करने वालो के लिए लाभकारी है। 
  • अंजीर में आयरन और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो खून की कमी को पूरा करने में मदद करते हैं, तो अगर कोई व्यक्ति एनीमिया/anemia से पीड़ित है तो घबराये नहीं अपनी डाइट में अंजीर को शामिल करे। 
  • अंजीर में मौजूद फाइबर शरीर के मल को जल्दी त्यागने में मदद करता है, इसके अंदर कुछ गुण पाए जाते हैं जो पेट में जमा विषैले पदार्थ को एक साथ जमा करके मल के रास्ते शरीर से बाहर निकाल देते हैं। इसका नियमित रूप से सेवन करने से कोलन कैंसर का खतरा कम हो सकता है। 



अंजीर के पौष्टिक तत्व–Figs Nutritional Value



Figs Nutritional Value




अंजीर के नुकसान–Side Effects of Figs in Hindi


इस लेख में अंजीर के फायदे पढ़ने के बाद आप समझ ही गए होंगे की अंजीर हमारी सेहत के लिए कितना लाभकारी होता है, पर क्या आप जानते है की ज्यादा इसका सेवन करने से यहाँ सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। 


👉जरूर पढ़ें - कलौंजी के फायदे और नुकसान (Benefits & Side Effect of Nigella Seeds in Hindi)


तो आइये जानते है ज्यादा मात्रा में अंजीर का सेवन करने पर होने वाले नुकसान के बारे में -

  1. अंजीर के अधिक मात्रा में सेवन करने से व्यक्ति के पाचन प्रणाली में ब्लीडिंग होने का खतरा भी हो सकता है।
  2. सूखे हुए अंजीर में भरपूर मात्रा में शुगर पाया जाता है, जिसका ज्यादा सेवन करने से आपके दांत सड़ भी सकते हैं।
  3. ज्यादा अंजीर खाने से आपको एलर्जी भी हो सकती है, इसलिए पहली बार अंजीर का कम मात्रा में सेवन करे। 
  4. कम रक्तचाप वालों को इसका सेवन डॉक्टर से पूछकर करना चाहिए, वरना उनका रक्तचाप और कम हो सकता है।
  5. अंजीर का अधिक सेवन करने से व्यक्ति को डायरिया होने का खतरा भी हो सकता है। 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ